समर्थक

SWAMI VIVEKANAND SAID:



"TALK TO YOURSELF ATLEAST ONCE IN A DAY
OTHERWISE
YOU MAY MISS A MEETING WITH AN EXCELLENT PERSON IN THIS WORLD".........

बुधवार, 27 जुलाई 2011

आमार मुक्ति आलोय आलोय


আমার মুক্তি আলোয় আলোয় এই আকাশে,
আমার মুক্তি ধুলায় ধুলায় ঘাসে ঘাসে॥
দেহ মনের সুদূর পারে হারিয়ে ফেলি আপনারে,
গানের সুরে আমার মুক্তি উর্ধ্বে ভাসে॥
আমার মুক্তি সর্বজনের মনের মাঝে,
দুঃখ বিপদ তুচ্ছ করা কঠিন কাজে।
বিশ্বধাতার যজ্ঞশালা, আত্মহোমের বহ্নি জ্বালা
জীবন যেন দিই আহুতি মুক্তি আশে॥



आमार मुक्ति आलोय आलोय  एई आकाशे

आमार मुक्ति धूलाय  
धूलाय घासे घासे 


देह मोनेर सुदूर पारे  हारिये फेली आपोनारे 
गानेर सूरे आमार मुक्ति उर्ध्वे भासे 

आमार मुक्ति सर्ब्बोजोनेर मोनेर माझे 
दू:ख बिपद तुच्छ कोरा कोठीन काजे 

बिश्वधातार यज्ञशाला,आत्म होमर बह्निजाला 
जीबों जानो दी आहुति मुक्ति आशे 


उपरोक्त गाने का आशय को अक्षुण रखते हुए अनुवाद करने की कोशिश करती हूँ :

आलोक से भरा इस आकाश में ही मेरा मोक्ष है छिपा 
इन धुल कणों में ,इन तृणों में मेरा मुक्ति है छिपा 

देह मन के  सुदूर छोर है जहां 
मन मेरा खो जाता है वहां 
इन गीतों के सुरों के उर्ध्व में मेरी मुक्ति है छिपा 

मेरी मुक्ति सर्वजनो के ह्रदय में है छिपा 
दू:ख विपद को तुच्छ करता हुआ कठिन कामो में है बसा 

विश्व विधाता के यज्ञशाला में 
आत्मा होम के अग्निशाला में 
मै अपने जीवन की आहुति दे दूं 
मुझे मुक्ति मिल जाए  



video




3 टिप्‍पणियां:

  1. मुझे आपका यह गीत बहुत अच्छा लगा । मुझे बांग्ला भाषा भी बहुत अच्छी लगती है । हमारे पीर मौलाना क़ारी साहब बंगाल के 24 परगना ज़िले के ही हैं। हमारी एक चाची भी बहुत अच्छी बांग्ला जानती हैं । मैंने बांग्ला भाषियों को हमदर्द पाया है ।
    मैं आपका यह गीत मुशायरे में लगाना चाहता हूँ ।
    लोगों की आसानी के लिए आप इसका अनुवाद भी कर दीजिए ।

    आभार तोमार

    सही है न ?

    उत्तर देंहटाएं
  2. मुझे आपका यह गीत बहुत अच्छा लगा । मुझे बांग्ला भाषा भी बहुत अच्छी लगती है । हमारे पीर मौलाना क़ारी साहब बंगाल के 24 परगना ज़िले के ही हैं। हमारी एक चाची भी बहुत अच्छी बांग्ला जानती हैं । मैंने बांग्ला भाषियों को हमदर्द पाया है ।
    मैं आपका यह गीत मुशायरे में लगाना चाहता हूँ ।
    लोगों की आसानी के लिए आप इसका अनुवाद भी कर दीजिए ।

    आभार तोमार

    सही है न ?

    उत्तर देंहटाएं
  3. अनुवाद होने के बाद अब मंशा पूरी तरह समझ पा रहा हूँ .
    इस वीडियो का लिंक भी दीजिये ताकि इसे साथ लगाया जा सके . इस गाने का तरन्नुम दिल में क्यों उतरता जाता है ?

    शुक्रिया .

    उत्तर देंहटाएं

iframe>

Comments

विजेट आपके ब्लॉग पर

BidVertiser

www.hamarivani.com

www.hamarivani.com